What Education After 10th Class | 10वीं कक्षा के बाद क्या करे,11th 12th Study

0
72
WHAT EDUCATION AFTER 10TH

What Education after 10th class | 10वीं कक्षा के बाद क्या करे

प्यारे बच्चों दसवीं की परीक्षा समाप्त होने के बाद हर विद्यार्थी के मन में एक ही प्रश्न उठता है कि दसवीं क्लास के बाद हम क्या करें??? इसके अलावा भी विद्यार्थियों के मन में तरह-तरह के प्रश्न आते हैं जैसे कि दसवीं के बाद कौन सा विषय चुनना चाहिए? कौन सी शाखा में प्रवेश लेना चाहिए?? कौन सा कॉलेज पढ़ाई के लिए बढ़िया होगा?

तो बच्चों यदि आपके मन में इसी प्रकार के प्रश्न उठ रहे हैं तो आज का जो हमारा लेख है इन्हीं प्रश्नों से संबंधित है। यदि आप जानना चाहते हैं कि कक्षा दसवीं के बाद हम क्या कर सकते हैं? कौन सी शाखा में प्रवेश ले सकते हैं? तो बच्चों इन्हीं सभी प्रश्नों की पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आप इस आर्टिकल में अंत तक बने रहें। यह लेख आपको एक सही दिशा का चुनाव करने में मदद करेगा।

कक्षा दसवीं के बाद शिक्षण क्षेत्र के अलग-अलग मार्ग(What Education after 10th class)

तो बच्चों चलिए मैं आपको ऐसे तीन मार्ग बताने वाला हूं जिनका चुनाव आप दसवीं के बाद कर सकते हैं। ये  तीनों क्षेत्र अध्ययन -अध्यापन प्रक्रिया में एक प्रचलित क्षेत्र माने  जाते हैं। आप इन तीनों क्षेत्रो  में से किसी एक क्षेत्र का चुनाव करके अपनी अध्ययन अध्यापन की प्रक्रिया पूर्ण कर सकते हैं।

1)11वीं 12वीं महाविद्यालय शिक्षण क्षेत्र | 11TH 12TH COLLEGE EDUCATION

 अधिकतर छात्र दसवीं की परीक्षा पास करने के बाद कॉलेज की पढ़ाई अर्थात 11वीं और 12वीं की पढ़ाई पूरी करते हैं। 11वीं और 12वीं की पढ़ाई करने के लिए आपको तीन शाखाओं में से किसी एक शाखा का चुनाव करना होता है। इन तीन शाखाओं का नाम विज्ञान, वाणिज्य तथा कला है। विद्यार्थियों को अपनी रूचि के अनुसार इन्हीं तीनों शाखाओं में से किसी एक शाखा का चुनाव करके ग्यारहवीं बारहवीं और फिर डिग्री या डिप्लोमा की पढ़ाई पूरी करनी होती है।

विज्ञान शाखा | SCIENCE STREAM EDUCATION

 जिन विद्यार्थियों को विज्ञान तथा गणित जैसे विषय में रुचि होती है ऐसे छात्र दसवीं कक्षा के बाद विज्ञान शाखा का चुनाव कर सकते हैं। विज्ञान शाखा से 11वीं तथा 12वीं का अध्ययन संपूर्ण करने के बाद विद्यार्थी डॉक्टर ,इंजीनियर तथा वैज्ञानिक जैसे कैरियर का चुनाव कर सकतें है। विज्ञान शाखा में Physics ,Chemistry Mathematics , Biology जैसे मुख्य विषयों का समावेश होता है।

यदि कोई छात्र इंजीनियर बनने का विचार कर रहा हो तो उससे 11वीं 12वीं अध्यापन प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद JEE MAINS जैसे परीक्षाओं की तैयारी करनी होती है। इसके लिए आपको फिजिक्स ,केमिस्ट्री तथा मैथ जैसे विषयों पर विशेष ध्यान देना होता है।

इसके अलावा यदि कोई छात्र डॉक्टर बनने का विचार कर रहा हो तो, 11वीं तथा 12वीं की अध्यापन प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद NEET की परीक्षा की तैयारी करनी होती है। इसके लिए विद्यार्थी को विशेष रुप से फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी जैसे विषयों पर विशेष ध्यान देना पड़ता है।

विद्यार्थी 11वीं और 12वीं की अध्यापक प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद फार्मेसी (Medicine) जैसे क्षेत्रों में भी अपने कैरियर का चुनाव कर सकते हैं|

छात्र 11वीं और 12वीं की अध्यापक प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद विज्ञान शाखा से ग्रेजुएट तथा पोस्ट ग्रेजुएट की अध्यापन प्रक्रिया भी संपन्न कर सकते हैं।

वाणिज्य शाखा |COMMERCE STREAM EDUCATION

ऐसे विद्यार्थी जिन्हें विज्ञान शाखा कठिन लगती हो, या ऐसे विद्यार्थी जिन्हें बैंकिंग क्षेत्र में अपने करियर का चुनाव करना है  वे छात्र वाणिज्य शाखा के अंतर्गत 11वीं 12वीं की अध्ययन अध्यापन प्रक्रिया संपूर्ण कर सकते हैं। यदि छात्र भविष्य में सीए अर्थात चार्टेड अकाउंट बनने का सपना रखता है तो वह वाणिज्य शाखा से अपनी अध्ययन प्रक्रिया को संपूर्ण करके इस क्षेत्र में अपना भविष्य बना सकता हैं।

कला क्षेत्र | ARTS STREAM EDUCATION

जिन छात्रों को विज्ञान तथा वाणिज्य शाखा कठिन लगती हो ऐसे विद्यार्थी कला शाखा का चुनाव कर सकते हैं। कला शाखा के अंतर्गत मराठी ,हिंदी ,इतिहास ,राज्यशास्त्र तर्कशास्त्र ,अंग्रेजी, मनोवैज्ञानिक  जैसे विषयों का समावेश होता है। कला शाखा के अंतर्गत स्नातक डिग्री प्राप्त करने के बाद छात्र अलग-अलग स्पर्धा परीक्षा में भाग अधिकारी जैसे पोस्ट के लिए  अपने करियर का चुनाव कर सकते हैं।

2)अलग-अलग डिप्लोमा कोर्सेज अर्थात् पॉलीटेक्निक |DIPLOMA OR POLYTECHNIC COURSE

 ऐसे कई सारे छात्र होते हैं जो कक्षा दसवीं के बाद भविष्य में किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बनाने की चाह रखते हैं। ऐसे छात्र कक्षा दसवीं के बाद अलग-अलग डिप्लोमा कोर्सेज जैसे मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, ऑटो मोबाइल इंजीनियरिंग, केमिकल इंजीनियरिंग या पॉलिटेक्निक में प्रवेश ले लेते है। प्रवेश प्राप्त करने के बाद शुरुआती 3 वर्षों में डिप्लोमा कोर्स पूरा हो जाता है। डिप्लोमा कोर्स के आधार पर भी नौकरी मिल सकती है। डिप्लोमा कोर्स की पढ़ाई संपन्न करने के बाद डिग्री प्राप्त करने के लिए भी पढ़ाई की जा सकती है।

3)आईटीआई क्षेत्र में अवसर या प्रवेश | ITI FIELD

ऐसे कई सारे छात्र होते हैं जो दसवीं कक्षा के बाद तुरंत नौकरी पाना चाहते हैं या दसवीं कक्षा के बाद किसी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान से विभिन्न प्रशिक्षण और पाठ्यक्रम करके अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो ऐसे विद्यार्थियों के लिए आईटीआई पाठ्यक्रम का चयन करना योग्य हो जाता है।

इसके अंतर्गत छात्रों को वायरमैन, फीटर मैन, वेल्डर जैसे कई कोर्सेज सिखाया जाते हैं।

Read- तरबूज के बीज के सात आश्चर्यजनक लाभ

सारांश

तो छात्रों इस प्रकार आज इस लेख के माध्यम से हमने यह जानकारी प्राप्त की की कक्षा दसवीं के बाद अपने करियर का चुनाव किन-किन क्षेत्रों में किया जा सकता है|इसके साथ ही साथ हमने विज्ञान शाखा ,वाणिज्य शाखा तथा कला शाखा में अंतर समझा। हमने यह भी जाना कि इन शाखाओं से अध्ययन अध्यापन की प्रक्रिया पूर्ण करने के बाद भविष्य में किस पोस्ट या पद, नौकरी के लिए छात्र योग्य हो सकता है। जानकारी में अंत तक बने रहने के लिए आप सभी का कोटि-कोटि धन्यवाद। यदि दी गई जानकारी से सम्बन्धित आपको कोई प्रश्न पूछना है तो आप उसे कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं। मैं आपके प्रश्नों का उत्तर देने का शीघ्र प्रयत्न करूंगा।

इसे भी पढे :

👉 11th Admission 2022-23 Maharashtra

👉 10th AND 12th RESULT DATE 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here