सितंबर महीने की वर्कशीट -9 th |विषय-विज्ञान (1 &2) | पाठ 4 और 9

0
80

 

सितंबर महीने की वर्कशीट

 

कक्षा–नौंवी

 विषय– विज्ञान (1)  पाठ क्रमांक– 4 

  द्रव्य का मापन

प्रश्न -अ) सही विकल्पों का चुनाव कीजिए।

 

1) नाइट्रोजन के एक मोल का द्रव्यमान ……ग्राम होगा।

 

A)36

 

B)63

 

C)28

 

D)48

 

2) कैडमियम का रासायनिक संकेत……. है|

 

A)C

 

B) Co

 

C) Cd

 

D) Ca

 

3) नाइट्रोजन गैस के 0.5 मोल का द्रव्यमान …….. होगा|

 

A)14 ग्राम 

 

B)28 ग्राम 

 

C)7 ग्राम 

 

D)21 ग्राम

 

4) कॉपर क्लोराइड का रासायनिक सूत्र होता ………हैl

 

A) Nacl

 

B) Cucl2

 

C)Cl

 

D) Na

 

5) कॉपर कार्बोनेट में  कापर, कार्बन तथा ऑक्सीजन का भरात्मक   अनुपात…… है।

 

A)5:4:1

 

B) 5:4:2

 

C) 3:4:1

 

D) 3:4:2

 

प्रश्न -आ ) दूसरी जोड़ी पूर्ण करो ।

 

A ) कैल्शियम :Ca : ; मैग्नीशियम :

 

B) नाइट्रोजन की संयोजकता: 3 : : पोटेशियम की संयोजकता :  

 

 प्रश्न.. इ) जोड़ियां मिलाओ।

 

A)पानी             1) संयोजकता 1

 

B)कार्बन            2) 18 ग्राम

 

C)क्लोरीन         3)  2,4

 

D) मैग्निशियम क्लोराइड  4)MgCl2

प्रश्न ई ) सत्य अथवा असत्य कथन ।

 

A) कार्बोनेट आयन संयुक्त मूलक  है।

 

B)  नाइट्रोजन की संयोजकता 5 है।

 

C) ऑक्सीजन के एक अणु में ऑक्सीजन के दो परमाणुओं होते है।

 

D) नियान रासायनिक दृष्टि से सक्रिय होता है।

 

E) एल्यूमीनियम  की संयोजकता तीन होती है।

 

प्रश्न – उ ) परिभाषा लिखो।

 

A)परमाणु द्रव्यमानांक

 

 ब) मोल

 

 C) संयोजकता

 

D)  मूलक

 

E) अणु द्रव्यमान

 

प्रश्न -ऊ) एक वाक्य में उत्तर लिखिए।

 

A)परमाणु त्रिज्या किसे कहते हैं |

 

B)बाईकार्बोनेट का संकेत लिखिए।

 

C) ऐसे तत्वों के नाम लिखिए जिन की संयोजकता 3  है।

 

D)अणु का क्या अर्थ है ।

 

E)कार्बन की संयोजकता क्या होती है।

 

प्रश्न-ए ) प्रश्नों के उत्तर लिखिए ।

 

A)तत्वों के संकेत का क्या अर्थ है। उदाहरण सहित स्पष्ट हो ।

 

B) परिवर्तनशील संयोजकता किसे कहते हैं।उदाहरण देकर स्पष्टकरो।

 

C)  पदार्थ के मोल का क्या अर्थ होता है ।

उदाहरण सहित स्पष्ट करो ।

 

D) सोडियम की संयोजकता एक होती है स्पष्ट करो।

 

E) नियान की संयोजकता शून्य होती है।

 

प्रश्न-ऐ ) दिए गए यौगिको के अणुद्रव्यमान ज्ञात कीजिए।

 

A)Nacl

 

B) MgO

 

C) KCl

 

D) NaoH

 

E) NaBr

……..समाप्त………………….

 

……………………………

 

 

 

सितंबर महीने की वर्कशीट

        कक्षा–नौंवी

 विषय– विज्ञान (2)  पाठ क्रमांक– 9

  पाठ :पर्यावरण प्रबंधन

प्रश्न -अ) रिक्त स्थानों की पूर्ति करें

 

A) जैव वैद्यकीय कचरा,…… होता है |

 

B) पुणे में प्रतिदिन……. टन  ठोस कचरा उत्पन्न होता है||

 

C) अजैविक घटकों में से जैव विविधता पर सबसे अधिक प्रभाव डालने वाला घटक…….. है |

 

D) रसोई घर के कचरे को…… कहते हैं |

 

E) मानव ने कितनी भी प्रगति  की हो, फिर भी …………पर विचार करना ही पड़ता है|

प्रश्न-आ) सत्य अथवा असत्य कथन पहचानो।

 

A) मिट्टी में उपस्थित सूक्ष्म  जीव उपयोगी होते हैं।

 

B) पुणे में प्रतिदिन 5000 टन ठोस कचरा उत्पन्न होता है।

 

C)केंचुए द्वारा प्लास्टिक का शीघ्र अपघटन  होता है ।

 

D) प्रत्येक विद्यालय में सामाजिक जागरूकता संबंधी कार्यक्रमों को आयोजित करना, कचरा प्रबंधन में सहायक होता है।

 

E) स्वतंत्र घूमने वाली जानवर कचरे के ढेर में पड़ी हुई प्लास्टिक की थैलियां निगल जाते हैं।

 

प्रश्न -इ) जोड़ियां मिलाओ।

1) धोखा दायक कचरा    a) कांच रबड़ कैरी बैग इत्यादि।

 

2) घरेलू कचरा        b) रसायन ,रंग ,राख इत्यादि।

 

3) चिकित्सीय कचरा   c) रेडियो सक्रिय पदार्थ

 

4) औद्योगिक कचरा।  d ) खराब हुआ भोजन सब्जी फलों के छिलके ।

 

5) शहरी कचरा।      e ) बैंडेज रुई, सुई 

इत्यादि।

 

प्रश्न-ई ) असंगत शब्द पहचानो।

 

A) गोबर, मछली के टुकड़े ,दुर्गंध युक्त किशमिश, रेजिन ।

 

B ) शल्यक्रिया में निकाला गया अंग ,कपास की पट्टियां, प्लास्टिक की थैली ,सिरिंज ।

 

C) विकृत सब्जी, अनुपयोगी सी.डी प्लेयर, सॉस  की खाली बोतल, जंग लगी किले ।

 

D) पेट के अवशेष, अवमल ,राख, मृत चूहा ।

 

प्रश्न -उ ) एक वाक्य में उत्तर लिखिए।

 

A)वैश्विक मौसम विज्ञान दिन कब मनाया जाता है।

 

B)कौन सा कचरा धोखा दायक होता है ।

 

C)मुंबई ,पुणे ,नागपुर में प्रतिदिन कितना ठोस कचरा निर्मित होता है ।

 

D)ई वेस्ट का क्या अर्थ है ।

 

E)जैव वैद्यकीय कचरा प्रबंधन करते समय विशिष्ट रंगों के  डिब्बेक्यों उपयोग किए जाते हैं।

 

प्रश्न -ऊ ) अंतर स्पष्ट करो।

 

A)मौसम और जलवायु

 

B)अपघटन शील कचरा तथा अनपघटन शील  कचरा

प्रश्न -ए ) प्रश्नों के उत्तर लिखिए।

 

A)ई कचरा घातक क्यों होता है| इसके संबंध में अपने विचार लिखो।

 

B)जलवायु की सजीव सृष्टी में महत्व अधोरेखित  करने वाले उदाहरण स्पष्टीकरण सहित अपने शब्दों में लिखो।

 

C)गीले तथा सूखे कचरे में कौन-कौन सी वस्तुओं का समावेश होता है।

 

D)जैव वैद्यकीय कचरा किसे कहते हैं।

 

E)रेडियोसक्रिय पदार्थ किसे कहते है।।

प्रश्न -ऐ)  परिच्छेद पढ़कर उस पर आधारित प्रश्न के उत्तर लिखिए ।

 

मानव के प्रति दिन की विविध कृतियों में अनेक निरोप योगी पदार्थ तैयार होते हैं। जिन्हें ठोस कचरा करते हैं। अगर हम योग्य पद्धति से कचरे का व्यवस्थापन करें तो यह अपशिष्ट पदार्थ ऊर्जा का एक मूल्यवान स्रोत बन सकते हैं ।आज की परिस्थिति में संपूर्ण विश्व के समक्ष ठोस कचरा एक बड़ी समस्या बन गया है। जिससे पानी वह जमीन दोनों ही प्रदूषित हो रहे हैं ।ठोस कचरा आर्थिक विकास पर्यावरण क्षति व आरोग्य समस्या की दृष्टि से एक गंभीर समस्या है। इसके कारण हवा पानी और जमीन प्रदूषित हो रहे हैं ।तथा प्रकृति व मानव अधिवास के लिए बड़ा संकट निर्माण हो गया है ।राज्य के प्रमुख महानगरों में निर्माण होने वाले ठोस कचरा इस प्रकार है। 

 

A) मानवीय अधिवास  को ठोस कचरे का खतरा कैसे पहुंचता है।

 

B) फेंके जाने वाली निरोपयोगी पदार्थ मूल्यवान स्रोत कब हो सकते हैं।

 

C) ठोस कचरा किस दृष्टि से बड़ी समस्या है।

 

D)  ठोस कचरा का निर्माण कौन करता है ।इसका निर्माण कैसे होता है।

………….समाप्त……………

………………..………………

 

………………………

# ध्यान  रखें:


1)केले के छिलके का  अपघटन होने के लिए 3 से 4 सप्ताह लगता है।

 

2)कागज की थैली का अपघटन होने के लिए 1 महीने लगता है।

 

3)चमड़े के जूते का अपघटन होने के लिए 40 से 50 वर्ष लगता है|

 

4)प्लास्टिक की थैली का अपघटन होने के लिए 10 लाख वर्ष लगते हैं।

 

5)थर्मोकोल कप का अपघटन होने के लिए अनंत काल का समय लगता है।

 

6)लकड़ी का विघटन होने के लिए 10 से 15 वर्ष लगते हैं।

 

7)एलुमिनियम  के डिब्बे का अपघटन होने के लिए 200 से 250 वर्ष लगते हैं|

 

8)ऊनी मोजे का अपघटन होने के लिए 1 वर्ष लगता है।

 

9)जस्ते  के डिब्बे का अपघटनन होने के लिए 50 से 100 वर्ष लगता है।

  


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here